बैंक मैनेजर कैसे बनें -(How to become a Bank manager.)

बैंक  मैनेजर  कैसे बनें .
(How to become a Bank manager )
Bank manager kaise bane, How to become a Bank manager, detail information in hindi. Ban  banne ke liye eligibility -yogyta, vaccancy and salary.बैंक मैनेजर बनने की पूरी जानकारी हिंदी में,वेंकेसी ,दक्षता एवं वेतन की पूरी जानकारी हिंदी में.
बैंक मैनेजर कैसे बनें (How to become Bank manager ,full information in hindi).


अगर आप बैंक का मैनेजर  बनने का सपना देख  रहे है तो उनके लिए एक खुशखबरी है कि अब उनके सपने और हकीकत रूप में आने के बीच ज्यादा फासला नही बचा है |बस जरूरत है तो बस यह जानने की कि उन सपनों को हकीकत के धरातल पर कैसे उतारा जाएं | तो एेसे में उन उम्मीदवारों को हताश होने की कोई जरूरत नहीं है | उन उम्मीदवारो के लिए मैं यह लेख प्रस्तुत कर रही हूँ ताकि आपका सपना हकीकत का रूप ले सके | तो आइए जानें कि बैंक मैनेजर कैसे बनें . (हाउ टू बीकम अ बैंक मैनेजर ).


 ' बैंक मैनेजर' अपने आप में एक प्रतिष्ठित ओहदा है | जिसे पाने के लिए मेहनत करनी पड़ती है | जब कभी भी आप किसी बैंक में गए होगे तो आपको कभी -न-कभी ये जरूर लगा होगा कि काश मेरी भी बैंक में नौकरी हो जाए तो जिंदगी संवर जाए और अगर बैंक में सरकारी नौकरी हो तो फिर क्या कहना ! आजकल कोई भी नौकरी पाना आसान नहीं रह गया है ,उसके लिए ना जाने कितनी मशक्कतें करनी पड़ती है |ना जानें कितनी परीक्षाओं के दौर से गुजरना पड़ता है |कभी -कभी आप परीक्षायें पास भी कर लेते हो तो, कभी-कभी इंटरव्यू में छाँट दिये जाते हो |अगर आपकी किस्मत अच्छी रही और आपको नौकरी SBI जैसी गर्वनमेंट बैंक में  मिल जाती है तो आपका और आपके परिवार का भविष्य सुरक्षित हो जाता है ,क्योंकि सरकारी बैंक की ब्रांच में नौकरी एक बेहतरीन करियर प्रदान करती है | हालाकि आज के दौर में सरकारी बैंको में नौकरी लोहे के चने चबाने जैसा है लेकिन अगर आप अर्जुन की तरह अपना साधकर उसकी तैयारी में जी-जान से लग जाते हो तो मुश्किल से मुश्किल काम आपके लिए आसान हो जाता है |
                जब कभी आप बैंक ब्रांच में गए होगे और वहां के मैनेजर की सुविधाएं एवं वहां नौकरी करने की कल्पना की होगी तो आपके मन में सवाल जरूर आया होगा कि आखिर किसी भी सरकारी SBI बैंक में मैनेजर कैसे बनते है और इसके लिए कौन -सी परीक्षाएं देनी होती है और बैंक में मैनेजर बनने पर कौन -सी सुविधाएं प्राप्त होती है तथा एक सरकारी या प्राइवेट बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती है | लेकिन इसके आपको किसी एक शाखा या ब्रांच की सारी जिम्मेदारी सौंप दी जाती है | जिसके बाद शाखा में काम करने वाले सभी कर्मचारी ब्रांच मैनेजर की देख -रेख में ही काम करते है |


Bank  manager  kaise bane :-

बसे  पहले तो आपको सोचना होगा कि आपको सरकारी बैंक में नौकरी करना है या प्राइवेट बैंक में | क्योंकि दोनो तरीके से बैंक में मैनेजर बनने की प्रक्रिया थोड़ी-थोड़ी अलग है |अगर बैंक की परीक्षा में उतीर्ण हो जाते है और आपको सरकारी बैंक में नौकरी भी मिल जाती है तो आपको प्राइवेट की तुलना में आपका वेतनमान ज्यादा होगा |

1) सरकारी बैंक :-

अगर आप देश की 20 से भी अधिक सरकारी बैंको में जॉब पाना चाहते है तो आपको इसके लिए  IBPS  की परीक्षा पास करनी होगी | IBPS  PO का फुल फॉम Institute of Banking personal selection होता है ,जिसे हिंदी में बैंकिंग कर्मिक चयन संस्थान कहते है |इस परीक्षा को पास करने के बाद आप देश की लगभग सभी सरकारी बैंक में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है | हालाकि SBI Bank अपने कर्मचारी के चयन के लिए अपनी अलग प्रक्रिया अपनाता है |


2) प्राइवेट बैंक :-

प्राइवेट बैंकों  में  नौकरी पाने के लिए आपको PO की परीक्षा पास करनी होगी | PO की फुल फॉम Probationary officer होती है जो मुख्य तौर पर बैंक कर्मचारी के रूप में कार्य करते है | जब भी किसी प्राइवेट बैंक को कर्मचारीगण की जरूरत होती है तो वह PO की परीक्षा लेती है  | इसमें पास होने वाले अभ्यर्थियों के चयन की अगली प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है जिसकी जानकारी नीचे दी गई है |


* अभ्यर्थी का भारतीय नागरिक होना आवश्यक है |
* उस उम्मीदवार की आयु 18 से 30 वर्ष होनी चाहिए |
* बैंक में ग्रेजुएट अभ्यर्थी को ही प्राथमिकता दी जाती है |
* सरकारी bank में मैनेजर के लिए IBPS एग्जाम को पास करना अनिवार्य है |
* प्राइवेट में आप PO एग्जाम पास करके भी नौकरी पा सकते है |
* इन सबके अलावा अभ्यर्थी को कंप्यूटर का कोर्स करना जरूरी है |


बैंक मैनेजर बनने के लिए किस प्रकार तैयारी करनी होगी :-

प्राइवेट हो या सरकारी किसी भी बैंक में आपको सीधे ब्रांच मैनेजर नही बनाया जाता है इसके लिए आपको पहले बैंक में प्रोबेशनरी अधिकारी (PO) के तौर पर काम करना होता है |इसके बाद अगर आपको प्रोमोट किया जाता है तो आपको असिस्टेंट मैनेजर के पद पर नियुक्त किया जायेगा | इसके बाद आप बैंक मैनेजर बन पाते है |इसके पहले आपको किन पड़ावो को पार करना होगा |आइए जानते हैं..........


1) 10+2 clear kare .

सबसे पहले पड़ाव पर आपको राज्य के सरकारी बोर्ड से 12वीं की परीक्षा पास करना होगा | कुछ अभ्यर्थी यह मानते है कि बैंकिंग सेक्टर में नौकरी पाने के लिए कॉमर्स विषय को ही चुनना होता है ,लेकिन एेसा बिल्कुल नही है |आप साइंस ,कॉमर्स या आर्टस विषय भी ले सकते है |


2) Graduation

12वीं पास करने के बाद साइंस,कॉमर्स या फिर आर्टस विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी होगी | इसके साथ ही आप कंप्यूटर का कोर्स भी कर लें ,क्योकि आज के दौर में सभी नौकरियों में कंप्यूटर की पढ़ाई को अनिवार्य घोषित किया गया है |


3) बैंक का PO एग्जाम :-

इसमें मुख्य तौर पर दो चरण में एग्जाम होता है| पहला चरण में अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा देनी होती है ,जिसमें सामान्य ज्ञान और करेंट अफेयर्स ,जनरल इंग्लिश, मैथ, तार्किक प्रश्न पूछे जाते है इन विषयों पर 100 प्रश्न पूछे जाते है इसके लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है |
                  दूसरे चरण में मुख्य परीक्षा होती है जिसमें प्रथम चरण में पास हुए अभ्यर्थियों को शामिल किया जाता है| इसमें माइनस मार्किंग भी होती है |इसमें भी आपको सामान्य ज्ञान और करेंट अफेयर्स,जनरल इंग्लिश,मैथ,तार्किक प्रश्न पूछे जाते है ,लेकिन इसमें थोड़े कठिन प्रश्न आते है |


4) इंटरव्यू और बैंक PO ट्रेनिंग :-

अगर आप PO परीक्षा पास कर लेते हो तो आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है हालांकि अब कई राज्यों में इंटरव्यू का सिस्टम बंद कर दिया गया है | एेसे में परीक्षा के बाद 1से 2 साल के लिए PO की ट्रेनिंग दी जाती है जिसमें आपको बैंकिंग से जुड़ी सभी चीजो का प्रशिक्षण दिया जाता है | जब आपका प्रशिक्षण पूरा हो जाता है तो आपको बैंक में PO की नौकरी मिल जाती है |

5)  असिस्टेंट मैनेजर और बैंक मैनेजर 


अगर आप बैंक में पीओ के पद पर रहकर अच्छा कार्य करते है तो आपको प्रमोशन के तौर पर 2-3 साल के बाद असिस्टेंट मैनेजर के पद पर नियुक्त किया जाता है | असिस्टेंट मैनेजर बनने के बाद आपको ब्रांच मैनेजर बना दिया जाता है |


* वेतन :-

ब आप बैंक में PO अधिकारी के रूप में काम करते है तो आपको शुरूआत में बेसिक सैलरी 23,700 रूपये होती है ,जो बैंक मैनेजर बनने तक 86500 मासिक रूपये तक हो सकती है | हालाकि बैंक पर निर्भर करता है कि वह आपको कितनी मासिक सैलरी देना चाहती है | वैसे  अक्सर देखा  गया है Government 
Bank की तुलना में प्राइवेट बैंक अपने कर्मचारियों को कम वेतन देती है |


अंतिम शब्द (Last word )

मुझे उम्मीद हैं दोस्तों कि आपको यह लेख पढ़ने में अच्छा लगा होगा | How to become Bank manager, full detail information in hindi ) में मैने बैंक मैनेजर कैसे बने की पूरी जानकारी हिंदी में देने की पूरी की है ताकि आपको इस लेख के माध्यम से बैंक मैनेजर कैसे बनें से संबंधित हर एक जानकारी मिल सके | अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा एवं उपयोगी लगे ं तो मुझे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट जरूर कीजिएगा और इसे अपने दोस्तों एवं परिचितो के बीच साझा जरूर करें.मुझे आपके इस पोस्ट पर राय की भी आशा हमेशा रहती है|आप चाहे तो इसे google पर सर्च कर सकते है |


                  Thank you.

Tags:- Career tips.How to become Bank manager.