भारतीय सेना में नर्सिंग असिस्टेंट कैसे बनें - How to become a Nursing Assistant in the Indian Army

Bhartiya sena mein narsing asistent kaise banen, Indian army me narsing asistent ki naukari kaise paye, Military me narsing sahayak ki naukari kaise prapt kare, information in hindi.

How to become a Nursing Assistant in the Indian Army

सेना में नर्सिंग असिस्टेंट कैसे बनें (How to become a Nursing Assistant in the Army)

भारतीय सेना में नर्सिंग असिस्टेंट कैसे बनें, इंडियन आर्मी में नर्सिंग असिस्टेंट की नौकरी कैसे पाए, मिलिट्री में नर्सिंग सहायक की नौकरी कैसे प्राप्त करें, इन हिंदी.

नर्सिंग असिस्टेंट के पद के बारे में जानकारी (Information about the post of Nursing Assistant)

भारतीय सेना (Indian Army) का नाम सुनते ही मन गर्व से भर जाता है, क्योंकि देश की सुरक्षा में भारतीय सेना का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है. 

आप तो जानते ही होंगे कि भारतीय सेना के जवान देशभक्ति के सच्चे उदाहरण हैं, जो अपने प्राणों की आहुति देकर भी देश की रक्षा करते हैं.

भारतीय सैनिक गर्मी और ठंड जैसे मौसम की परवाह किए बिना देशवासियों की रक्षा करते हैं. भारतीय सैनिक बहुत ही बहादुर हैं, जिसके कारण वे हर मुसीबत में तकनीकी हथियारों से लड़ते हैं. 

भारतीय सेना न केवल सीमा पर रहकर देश की रक्षा करती है, बल्कि जब देश के भीतर कोई समस्या होती है, तो वह वहां भी मदद के लिए हमेशा तैयार रहती है.

सेना के जवानों का जीवन बहुत ही दुखद होता है, क्योंकि प्रत्येक सैनिक को अपने देश के लिए अपने परिवार से दूर रहना पड़ता है. फिर भी, उसके परिवार के लोग उसकी खुशी के लिए दुआ माँगते हैं, और देश की सेवा करने से उन्हें कभी नहीं रोकते है.

भारतीय सेना में कई तरह के पद होते हैं जैसे, जीडी शिपाई, ट्रेड्समैन, क्लर्क, नर्सिंग असिस्टेंट आदि कई सारे. जिसमे सेना जीडी के जवान देश की सेवा के लिए हमेशा तैयार रहते हैं. 

सबसे पहले, भारतीय सेना के जीडी के जवान उस स्थान पर पहुंचते है, जहां देश में कुछ हमला या दुर्घटना हुई है. अगर हमले में कोई सैनिक घायल होता है, तो उसके इलाज या देखभाल के लिए एक डॉक्टर या नर्स की आवश्यकता होती है.

नर्सिंग असिस्टेंट की चयन प्रक्रिया (Selection process of nursing assistant)

भारतीय सेना के जवानों के इलाज और देखभाल के लिए हर साल सेना में नर्सिंग असिस्टेंट के रूप में भर्ती की जाती है. नर्सिंग असिस्टेंट की शारीरिक परीक्षा कैसे होती है, नर्सिंग असिस्टेंट के लिए क्या दस्तावेज अनिवार्य हैं, और नर्सिंग असिस्टेंट की चयन प्रक्रिया कैसे होती है तथा नर्सिंग असिस्टेंट को वेतन कितना मिलता है. यह सभी जानकारी जानने के लिए कृपया इस लेख को अंत तक जरुर पढ़े.

शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualifications)

1. उम्मीदवार अंग्रेजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी में बी.एससी पास होना चाहिए.

2. उम्मीदवार को अंग्रेजी, जीव विज्ञान, भौतिकी और रसायन विज्ञान विषयों के साथ 12 वीं विज्ञान से गुजरना होगा.

3. प्रत्येक विषय में 40% से 50% अंक होने चाहिए.

आवश्यक दस्तावेज़ (Required Documents)

1. 10वी और 12वी मार्कशीट

2. मूल निवासी प्रमाण पत्र

3. उम्मीदवार का चरित्र प्रमाण पत्र

4. पासपोर्ट साइज़ फोटो

5. एनसीसी प्रमाण पत्र, खेल प्रमाण पत्र 

6. जाति प्रमाण पत्र

शारीरिक योग्यता (Physical Eligibility)

1. उम्मीदवार की आयु सीमा 17.6 से 23 वर्ष होनी चाहिए.

2. उम्मीदवार की ऊंचाई 167 सेमी होनी चाहिए.

3. उम्मीदवार की छाती न्यूनतम 77 सेमी होनी चाहिए.

4. उम्मीदवार का वजन कम से कम 50 किलोग्राम होना चाहिए.

शारीरिक परीक्षा (Physical Examination)

1. उम्मीदवार को 5:30 मिनट में 1.6 किमी दौड़ना होता है जिसमें 60 अंक दिए जाते हैं.

2. उम्मीदवार को 10 बीम स्कोर करना है, जिसमें 40 अंक दिए जाते हैं.

3. उम्मीदवार को 9 फीट लंबा कूदना होगा, हालांकि इसके कोई गुण नहीं मिलते है, लेकिन उम्मीदवार को कूदना आवश्यक है.

4. शरीर के संतुलन को बनाए रखने के लिए, इस प्रकार के ज़िग ज़ैग को पूरा करना आवश्यक है, लेकिन इसके भी कोई गुण नहीं मिलते है.

मेडिकल जाँच (Medical examination)

1. छोटे-छोटे बाल काटें और अच्छी तरह से शेविंग करें, तभी मेडिकल चेक-अप के लिए जाएं.

2. गुप्तांगों को अच्छी तरह से साफ़ करें, ताकि चिकित्सीय जाँच के समय कोई समस्या न हो.

3. शरीर पर किसी भी प्रकार का टैटू नहीं होना चाहिए.

4. कानों को अच्छे से साफ करें.

5. मेडिकल जांच के दौरान घबराएं नहीं.

6. उम्मीदवार को हाइड्रॉक्सिल या बवासीर जैसी कोई समस्या नहीं होनी चाहिए.

लिखित परीक्षा (Written exam)

1. नर्सिंग सहायक के लिए, दो लिखित परीक्षाएं देनी होती हैं, पहले पेपर में सामान्य ज्ञान, गणित, वर्तमान प्रश्न और तार्किक क्षमता के बारे में प्रश्न पूछे जाते हैं. दूसरे पेपर में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी जैसे तकनीकी विषयों के प्रश्न पूछे जाते हैं.

2. अखबार को रोजाना पढ़ें ताकि आपका वर्तमान ज्ञान बना रहे, ताकि आप अपने द्वारा पूछे गए किसी भी वर्तमान प्रश्न को आसानी से हल कर सकें.

3. सेना की पुरानी परीक्षा प्रश्नावली जमा करें और उन प्रश्न पत्रों को हल करने का प्रयास करें.

4. इस परीक्षा में तर्क क्षमता के बारे में कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं, इसलिए अपनी तर्क क्षमता बढ़ाने के लिए रोजाना 10 प्रश्नों को हल करें.

5. इस परीक्षा को पास करने के लिए आपका सामान्य ज्ञान भी बहुत अच्छा होना चाहिए. अच्छा ज्ञान प्राप्त करने के लिए, भूगोल, इतिहास, अर्थव्यवस्था और अधिक आदि के लिए 30 मिनट के दैनिक विषयों को पढ़ें और जो शब्द आपको याद नहीं हैं वे एक नोटबुक पर लिखें, ताकि आप अपने लेखन के दौरान उन शब्दों को याद कर सकें.

6. सामान्य ज्ञान के साथ-साथ इस परीक्षा में गणित विषय का अच्छा ज्ञान होना चाहिए. इसलिए गणित विषय पर अच्छी पकड़ बनाने के लिए गणित विषय की क्लास लगायें, जिससे आपको गणित विषय की अच्छी जानकारी होगी.

7. तकनीकी विषयों की तैयारी के लिए फिजिक्स, बायोलॉजी केमिस्ट्री में इन विषयों का अध्ययन करें.

अंतिम शब्द (Last Word)

दोस्तों, इस लेख में हमने भारतीय सेना में नर्सिंग असिस्टेंट कैसे बनें (How to become a Nursing Assistant in the Indian Army), इसके बारे में जाना है. यदि आपको यह लेख अच्छा एवं उपयोगी लगे, तो इसे अपने परिचितों में साझा जरुर करे.

Search on google

Bhartiya sena mein narsing asistent kaise banen
Indian army me narsing asistent ki naukari kaise paye
Military me narsing sahayak ki naukari kaise prapt kare