हमें सफल होने के लिए कैसे बोलना चाहिए - How we should speak to succeed

हमें सफल होने के लिए कैसे बोलना चाहिए - How we should speak to succeed

हमें सफल होने के लिए कैसे बोलना चाहिए, (hame saphal hone ke liye kaise bolna chahiye), बात करने के तरीके क्या हैं, हमें बड़े लोगों से कैसे बात करनी चाहिए।

 How we should speak to succeed

सफल होने के लिए बोलने का सही तरीका

नमस्कार दोस्तों, आप सभी जानते हैं कि आपके हर काम में आपके जुबान की क्या कीमत होती है। अगर आपकी जबान साफ है, तो आपका कोई भी काम आप से पूरा कर लेते हैं। क्योंकि हम सभी अपनी जबान की कीमत जानते हैं। जिस व्यक्ति में बोलने की कला है, वह अपने शब्दों को दुनिया के सामने प्रभावी ढंग से प्रस्तुत करना जानता है। और उसका प्रभाव इतना गहरा है कि उसे दुनिया से वांछित परिणाम भी मिलते हैं। ऐसी स्थिति में आप भी चाहेंगे कि बोलने की कला भी आपमें विकसित हो ताकि आप उच्च स्तर तक आसानी से पहुँच सकें। तो आइए आज जानते हैं कि बोलने की कला कैसे सीखें।

बोलने से पहले तैयारी करें

दोस्तों, हम सभी बहुत अच्छा बोलते हैं लेकिन कुछ स्थान ऐसे भी हैं जहाँ हम नहीं बोल सकते हैं। जैसे हम किसी मीटिंग या प्रेजेंटेशन में जाते हैं और हमें आगे आकर प्रेजेंटेशन देना होता है, लेकिन इससे पहले कि हम एक प्रेजेंटेशन दें, कई अधिक घबरा जाते हैं। अगर हम नर्वस हो जाते हैं और हमारी नर्वस शक्तियां हम पर हावी हो जाती हैं, तो हम अच्छा प्रेजेंटेशन नहीं दे पाते हैं। अगर हमें बहुत अच्छा प्रेजेंटेशन देना है, तो हमें अपने दिमाग को शांत रखकर और गहरी सांस लेकर एक प्रेजेंटेशन देना चाहिए, ताकि हमें आगे किसी परेशानी का सामना न करना पड़े। हमें इतना विश्वास होना चाहिए कि हम खुद को बताएं यह बहुत आसान है, और मैं यह कर सकता हूं। इसे अपने दिमाग में 5 से 6 बार दोहराएं, और अपने मन और दिल को उत्साह से भरा रखें, अपने मन के अंदर खुद को सकारात्मक रखें। अगर हम ऐसा करते हैं तो हमारा बहुत अच्छा प्रदर्शन शुरू हो जायेंगा।

बोलने से पहले अच्छी तरह से सुनें

दोस्तों, आप जब कोई भी मीटिंग में रहते हैं तो आपका ध्यान आगे वाले की बात पर रहना चाहिए। यदि आपका  ध्यान सामने वाले व्यक्ति की बातों पर केंद्रित नहीं है, तो ऐसी स्थिति में, आप सामने वाले व्यक्ति से कोई भी सवाल नहीं पूछ सकते हैं, न ही आप सही तरीके से पूछे गए सवालों का जवाब दे सकते हैं।

बोलने की कला बहुत आसान है

दोस्तों, हम सभी जानते हैं कि बोलने की कला बहुत आसान है। हमें बस इस कला को समझने की जरूरत है। अगर हम इस कला को बहुत अच्छी तरह से सिख जाते हैं तो हम कई परेशानियों से बच जाएंगे। जैसे हम किसी मीटिंग में जाते हैं या कोई सार्वजनिक मंच पर जाते है, तो हम अपने विचारों को आगे के लोगों की नज़र में रखकर बात कर सकते हैं। अगर हम सभी इस कला को सीखना चाहते हैं, तो हमें इन सभी बातों का ध्यान रखना चाहिए।

प्रभाव और बोलने का तरीका

दोस्तों, आप सभी जानते हैं कि हर किसी के बोलने और प्रभावित करने का तरीका होता है। अगर यह कला आपके भीतर आती है, तो आप अपनी बात को पूरी दुनिया के सामने रख सकते हैं। और आपका प्रभाव इतना गहरा है कि आपको वांछित परिणाम मिलते हैं। यदि आप प्रभावी ढंग से बात करते हैं, तो आपको अपने जीवन जीने के तरीके को बदलना होगा ताकि आपका प्रभाव और जीवन जीने के तरीके को देखकर हर कोई चौंक जाए।

बात करने में जल्दबाजी न करें

दोस्तों, हम कभी-कभी बात करने के लिए इतनी जल्दबाजी करते हैं, कि हम भूल जाते हैं कि हम किस बारे में बात कर रहे हैं। दोस्तों, कई बार ऐसा होता है कि लोगों के बीच अपनी पहचान बनाने के लिए, हम जल्दबाज़ी में जवाब देकर प्रभाव बनाने की कोशिश करते हैं, लेकिन प्रभाव बनाने के चक्कर में हम अक्सर गलत जवाब देते हैं। हम जल्दबाज़ी में कुछ सवालों को नहीं समझते हैं और हम जल्दबाज़ी में उस सवाल का जवाब देते हैं।इसलिए, हमें सही उत्तर देने के लिए कुछ समय लेना चाहिए, पहले उस प्रश्न को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए, फिर हमें उस प्रश्न का सही उत्तर देना चाहिए।