प्लैंक व्यायाम करने के क्या फायदे हैं? - What are the benefits of Planck Exercise

प्लैंक व्यायाम करने के क्या फायदे हैं? - What are the benefits of Planck Exercise

शारीरिक जीवन के लिए प्लैंक व्यायाम क्यों आवश्यक है, (shaareerik jeevan ke liye Planck vyaayaam kyon aavashyak hai), प्लैंक व्यायाम करने से कोनसे फायदे होते है, पेट की तोंद को कम करने के लिए कोणता व्यायाम करना चाहिए।

What are the benefits of Planck Exercise

प्लैंक व्यायाम की जानकारी

दोस्तों, हम आज कल के भागदौड वाले समय में अपने स्वास्थ्य के लिए समय नहीं निकालते हैं। अगर हम अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं देते हैं तो हमारा पेट बाहर निकल जाता है, और बहुत सी बीमारी होने की आशंकाएं होती हैं। और बाहर निकला हुआ पेट लेकर के जाते है, अगर हमारा पेट बाहर निकला हो तो हमारी नाक कटे समान लगती है। पेट को अंदर करने के लिए हम कई उपाय करते हैं और बहुत सारी दवाइयाँ खाते हैं
फिर भी हमारा पेट अंदर नहीं जाता है, इसलिए हम आपके लिए एक सरल व्यायाम और उपाय लाए हैं। हम इसे अपने घर की छोटी गैलरी में कर सकते हैं या आप इस व्यायाम को एक छोटे से कमरे में कर सकते हैं। जो आपके लिए बहुत ही आसान होगा।

प्लैंक व्यायाम के प्रकार

(1)  वन साइड प्लैंक व्यायाम
(2)  हाई प्लैंक व्यायाम
(3)  लो प्लैंक व्यायाम

प्लैंक व्यायाम करने का तरीका

दोस्तों, यह एक व्यायाम है जो हमारे लिए बहुत फायदेमंद है, इसलिए हम जानेंगे कि इसे कैसे करना है। सबसे पहले, सुबह जल्दी उठें और जमीन पर पेट के बल लेट जाएं। फिर दोन्हो हात के कोन्ही को जमीन पर ले जाएं,
 और अपने पुरे शरीर को उपर करे और पैर के दोनों पंजो को टेक दे, और दोनों कंधों के नीचे हात की कोहनी होनी चाहिए। अपने शरीर को एक स्तर पर रखें जैसे की गर्दन, कुल्हो और कमर को कुछ समय के लिए ऐसे ही रखें।
आप इस स्थिति में जितने अधिक समय तक रहेंगे, आपके शरीर के लिए उतना ही फायदेमंद होगा। ऐसा आप  रोजाना 2 से 3 मिनट तक करें।

प्लैंक व्यायाम करने के फायदे 

शरीर का संतुलन

दोस्तों, हम अपने शरीर के संतुलन को बनाए रखने के लिए बहुत व्यायाम करते हैं लेकिन हमें इसका कोई लाभ नहीं मिलता है। अपने शरीर को संतुलन में रखने के लिए प्लैंक व्यायाम करना बहुत महत्वपूर्ण व्यायाम है। जब हम शारीरिक गतिविधि करते हैं, तो हमारे अंग को दबाव पड़ता है, लेकिन जब हम यह व्यायाम करते हैं, तो आपका अंग अधिक दबाव में नहीं होगा।

पेट की मांसपेशियां मजबूत

आप जानते हैं कि मोटापा हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक है। हम अपने मोटापे के कारण कोई भी काम अच्छे से नहीं कर पाते है, और हमारे पहनावे में भी तकलीफ होती है। पेट बाहर निकलना हमारे पेट की मांसपेशियों को ढीला कर देता है। अगर हमें अपना पेट अंदर करना है और पेट की मांसपेशियों को मजबूत बनाना है, इसलिए यदि आप इस प्लैंक व्यायाम को करते हैं, तो आपके पेट की चर्बी पिघल जाती है और यह सपाट हो जाती है। इससे आपके पेट की मांसपेशिया मजबूत होती है।

पेट की अपचन की समस्या दूर होती है

दोस्तों, आज के इस भाग दौड़ वाले समय में, हम फास्ट फूड और जंक फूड खाते हैं। लेकिन हम नहीं जानते कि इस फास्टफूड और जंक फूड को खाने से हमारे पेट में अपचन की समस्या शुरू हो जाती है। इससे हमारे पेट की चर्बी बढ़ने लगती है। लेकिन प्लैंक व्यायाम करने से शरीर की मांसपेशियां बनती हैं और शरीर पर ज्यादा चर्बी नहीं बढ़ती है। इस वजह से, हमारे शरीर का मेटाबॉलिज्म बढ़ने में मदद करता है। यह व्यायाम गैस और अपचन की समस्या को दूर करता है।

कमर, पैर और कंधे के दर्द से राहत दिलाएं

दोस्तों, आप जानते हैं कि बढ़ती उम्र के साथ कमर, कंधे और पैरों में दर्द शुरू हो जाता है। लेकिन बुजुर्गों की बढ़ती उम्र के साथ, अगर वे प्लैंक व्यायाम करते हैं, तो उन्हें बहुत लाभ मिलेगा। और उनके कंधे पैरों और कमर में मजबूत रहेंगी और उनके पैर, कमर और कंधे का दर्द भी दूर हो जाएगा। इस व्यायाम को करते समय आप अपनी कमर को सीधा रखें ताकि इस व्यायाम को करने से कमर का ऊपरी हिस्सा और कमर का निचला हिस्सा मजबूत हो।