वास्तुशास्त्र के अनुसार गृह प्रवेश कब करें - When to enter the house according to Vastushastra

वास्तुशास्त्र के अनुसार गृह प्रवेश कब करें - When to enter the house according to Vastushastra

वास्तुशास्त्र के अनुसार गृह प्रवेश कब करना चाहिए, (vastushastra ke anusaar gruh pravesh kab karna chahiye), गृह प्रवेश करने के लिए कोन कोन से कार्य पूरे करे। 

 When to enter the house according to Vastushastra

गृह प्रवेश की जानकारी

नमस्कार दोस्तों, कैसे हो आप सभी लोग हर बार मैं आप सभी के लिए नए नए लेख लिखता हूँ, जैसे की मैंने स्वास्थ्य, पढ़ाई, व्यायाम, वास्तुशास्त्र और स्वादिष्ट पकवान के बारे में लेख लिखे हैं। जो आप सभी के लिए बहुत उपयोगी हैं। इस बार मैं आपके लिए एक नया लेख लिख रहा हूं और यह लेख गृह प्रवेश के बारे में है, कुछ लोगों को नहीं पता होता है कि गृह प्रवेश कब करना चाहिए। इस पोस्ट में मैं आपको गृह प्रवेश कब और कैसे करना है, इसके बारे में बताऊंगा।

गृह प्रवेश के लिए यह कार्य करें

घर के मुख्य द्वार की दिशा

नमस्कार दोस्तों, जब आप घर बनाते हैं, तो आपके लिए आपके घर का मुख्य द्वार होता है। अगर आपके घर का मुख्य द्वार उत्तर की ओर रहता है, तो यह शुभ माना जाता है। घर के मुख्य द्वार को आम के पत्तों और गेंदे से तोरणद्वार से सजाया जाना चाहिए। घर का मुख्य द्वार पश्चिम, दक्षिण दिशा में हो तो यह शुभ नहीं माना जाता है।

घर के मंदिर की दिशा

दोस्तों, आप सभी लोग घर बनाते हैं, लेकिन आपके घर में एक चीज होती है और वह है घर का मंदिर। अगर घर में मंदिर है, तो बहुत अच्छा लगता है और घर में खुशहाली रहती है। लेकिन इस खुशी को हमेशा बनाए रखने के लिए, आपके घर के मंदिर की दिशा सही होनी चाहिए तभी आप खुश रहेंगे। तो दोस्तों, आपके घर में मंदिर का स्थान उत्तर-पूर्व दिशा में होना चाहिए। जिस दिन आप गृह प्रवेश करते हैं, आपको उसी दिन मंदिर की स्थापना करनी चाहिए। अगर आपके घर का मंदिर इस दिशा में बना रहता है तो घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है।

घर की सभी चीजे फिटिंग कर ले 

दोस्तों, अगर आपके घर का काम पूरा नहीं हुआ है तो आप उसे पूरा कर लें। अपने घर के गेट, खिड़की और अन्य चीजों की फिटिंग करवाएं। यदि आपके घर का काम पूरा नहीं हुआ है, तो आप गृह प्रवेश नहीं कर सकते। घर का काम पूरा हो जाता है तो आपको वास्तु पुरुष और अन्य देवताओं की पूजा करनी चाहिए। घर के मुख्य द्वार पर, स्वास्तिक और माता लक्ष्मी के पैरों के रंगोली से निशान बनाए।

घर के लिए सकारात्मक ऊर्जा के उपाय

दोस्तों, जब हम घर बनाते हैं, तो हमारे घर में बहुत सारी नकारात्मक ऊर्जा आती है। और हम नकारात्मक ऊर्जा को भगाने के लिए बहुत सारे उपाय करते हैं। जैसे हम हवन पूजन करते हैं, गणेश जी की पूजा करते हैं, नवग्रह की शांति और वास्तु की पूजा करते हैं।

गृह प्रवेश के लिए समारोह

दोस्तों, आप गृह प्रवेश के लिए एक बड़ा समारोह करते हैं। जब आप समारोह कर रहे होते हैं, तो आप हवन करवा के पुजारी, आपके मित्रों और आपके रिश्तेदारों को घर के समारोह में भोजन करने के लिए आमंत्रित किया जाता है। इस सब के बाद, आप और आपका परिवार घर की पूजा करने के बाद एक नए घर में रह सकते हैं।